New Sarkari Yojana List 2021 (नई सरकारी योजनाओं की सूची)

New Sarkari Yojana List 2021 (नई सरकारी योजनाओं की सूची)

प्रधानमंत्री मोदी एवं विभिन्न राज्य के मुख्यमंत्री द्वारा शुरू की गयी सभी योजनाएं, केंद्र व राज्य सरकार की योजनाएँ 2021, सरकारी योजना हिंदी और अंग्रेजी में योगी योजना वेबसाइट पर

छत्तीसगढ़ राजीव युवा मितान क्लब योजना 2021 - CG Rajiv Yuva Mitan Club Yojana

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ राजीव युवा मितान क्लब योजना 2021 का शुभारम्भ कर दिया है। CG Rajiv Yuva Mitan Club Yojana के अंतर्गत प्रदेश में सरकार 15 से 40 वर्ष आयु के युवाओं के लिए नया क्लब बनवाएगी। इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको सीजी राजीव युवा मितान क्लब योजना के बारे में पूरी जानकारी देंगे। 

क्या है CG Rajiv Yuva Mitan Club Yojana 2021 

सीएम भूपेश बघेल ने शनिवार को सीएम हाउस में आयोजित एक समारोह में राजीव युवा मितान क्लब योजना शुरू की। प्रत्येक क्लब के संचालन के लिए सरकार सालाना एक लाख रुपए देगी। इस क्लब का मकसद पर्यावरण, खेल और संस्कृति को संरक्षित करना होगा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राज्य के युवाओं से किए अपने वायदे को पूरा करते हुए उन्हें रचनात्मक कार्यों से जोड़ने और विकास कार्यों में सहभागी बनाने के लिए राजीव युवा मितान क्लब नाम से एक महत्वाकांक्षी योजना का शुभारंभ किया।
राज्य के सभी ग्राम पंचायतों एवं नगरीय निकायों में 13 हजार 269 क्लब गठित किये जाने हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि इस क्लब के गठन से हमारे घोषणा पत्र का एक और वादा पूरा हुआ है। इस क्लब के जरिए युवा अपनी व्यक्तिगत पहचान और नेतृत्व क्षमता का विकास कर पाएंगे इसके जरिए पर्यावरण और संस्कृति को संरक्षित करने का काम करेंगे।

कैसे लागू होगी छत्तीसगढ़ राजीव युवा मितान क्लब योजना

अधिकारियों ने बताया कि जिन ग्राम पंचायतों और शहर के वार्ड की आबादी 2500 से अधिक होगी, वहां दो क्लब भी बनाए जाएंगे। इस क्लब में कम से कम 20 और अधिक से अधिक 40 सदस्य होंगे। इनमें से एक तिहाई महिलाओं का होना अनिवार्य होगा। सरकार क्लब की गतिविधियों के संचालन के लिए प्रत्येक महीने 25 हजार रुपए देगी। साल भर में इन क्लबों पर 132 करोड़ 69 लाख रुपए खर्च किए जाएंगे। 
यह राशि खेल संचालनालय से जिला खेल अधिकारी को भेजी जाएगी। जिला स्तरीय समिति और प्रभारी मंत्री की अनुशंसा पर इसे अनुभाग वहां से जनपद पंचायत और फिर क्लब तक यह राशि पहुंचेगी। अधिकारियों ने बताया कि ये क्लब कलेक्टर और एसडीएम के तहत काम करेंगे। जिले के प्रभारी मंत्री इस क्लब के संरक्षक होंगे। 

इस योजना की निगरानी के लिए प्रदेश स्तर पर दो समितियां बनेंगी। पहली समिति मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में बनेगी। दूसरी सचिव स्तर की समिति होगी। इसकी अध्यक्षता मुख्य सचिव करेंगे।

Post a Comment

0 Comments