New Sarkari Yojana List 2023 (नई सरकारी योजनाओं की सूची)

New Sarkari Yojana List 2023 (नई सरकारी योजनाओं की सूची)

प्रधानमंत्री मोदी एवं विभिन्न राज्य के मुख्यमंत्री द्वारा शुरू की गयी सभी योजनाएं, केंद्र व राज्य सरकार की योजनाएँ 2023, सरकारी योजना हिंदी और अंग्रेजी में योगी योजना वेबसाइट पर

राजस्‍थान मुख्यमंत्री निःशुल्क दवा योजना 2023 Registration, Medicine List

***मेरे प्यारे साथियों***आज हम आपको राजस्थान मुख्यमंत्री निःशुल्क दवा योजना 2023 के बारे में बताएंगे। राजस्थान सरकार की मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना के अंतर्गत राज्य चिकित्सालय में आने वाले सभी अन्तरंग एवं बहिरंग रोगियों को आवश्यक दवा सूची में शामिल दवाओं में से दवा उपलब्ध करवाई जाएगी। इस आर्टिकल में हम आपको Rajasthan Mukhyamantri Nishulk Dava Yojana registration process और medicine list के बारे में बताएंगे।  

क्या है राजस्‍थान मुख्यमंत्री निःशुल्क दवा योजना 2023

मुख्यमंत्री निःशुल्क दवा योजना की शुरुआत 2 अक्टूबर 2011 को की गई थी। राजस्थान सरकार की MNDY स्कीम के तहत लाभार्थी को राज्य चिकित्सालय में आने पर निशुल्क औषधि प्रदान की जाती है। राजकीय चिकित्सालयों में आने वाले सभी अंतरंग एवं बहिरंग रोगियों को आवश्यक दवा सूची में शामिल 1594 प्रकार की दवाइयों, 928 सर्जिकल एवं 185 सूचर्स सहित कुल 2707 दवाइयां, सर्जिकल व सूचर्स निःशुल्क उपलब्ध करवाई जाती हैं।

राज्य के सभी चिकित्सा संस्थानों में दवा वितरण करने के लिए 33 जिला मुख्यालयों पर 40 जिला औषधि भंडार गृह स्थापित हैं। दवाइयों की अनुपलब्धता होने पर राजकीय चिकित्सालयों की मांग अनुसार स्थानीय स्तर पर क्रय कर उपलब्ध करवाई जाती हैं। योजना में वर्तमान सरकार के कार्यकाल में अब तक 3680 करोड़ रुपये व्यय किये गये। इन्डोर एवं आपातकालीन मरीजों के लिए दवा की उपलब्धता 24 घंटे सुनिश्चित करवाई जा रही है।

Overview of Mukhyamantri Nishulk Dava Yojana (MNDY)

योजना का नाम मुख्यमंत्री नि:शुल्क दवा योजना 
in EnglishMukhyamantri Nishulk Dava Yojana (MNDY)
विभाग चिकित्सा एवं स्वास्थय विभाग, राजस्थान सरकार 
वित्त पोषित राज्य - 40%, केंद्र - 60% 
योजना का प्रकार पारिवारिक, व्यक्तिगत, सामूहिक
योजना के नामित अधिकारीनोडल अधिकारी
पात्रता चिकित्सालयों में आने वाले सभी अन्तरंग एवं बहिरंग रोगी, सभी रोगियों को सूची में सम्मिलित दवाओं में उपलब्ध दवा निशुल्क प्रदान की जाती है.
आवेदन का माध्यम ऑफलाइन 
Application Feeमुख्य मंत्री निःशुल्क दवा योजना (Nishulk Dawa Yojana) के लिए आवेदन निशुल्क है।  
लाभार्थी को देय लाभ लाभार्थी को फ्री में औषधि प्रदान की जाती है।  
आइटम / सामग्री का नामFree Medicines
Official Websitehealth.rajasthan.gov.in 
मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना पीडीएफ डाउनलोडMNDY Advertisement, MNDY Guidelines
MNDY Renamed as Mukhyamantri Nishulk Dawa & Janch Yojana मुख्यमंत्री नि:शुल्क निरोगी राजस्थान योजना 

राजस्‍थान मुख्यमंत्री निःशुल्क दवा योजना Registration 

इस योजना के माध्यम से राजकीय चिकित्सालयों में आने वाले सभी इनडोर एवं आउटडोर रोगियों को आवश्यक दवा सूची में सम्मिलित दवाइयां निःशुल्क उपलब्ध करवाई जाती हैं। इस योजना को सरकार द्वारा 2 अक्टूबर 2011 को आरंभ किया गया था। इस योजना के अंतर्गत सभी चिकित्सा संस्थानों में दवा वितरण करने के लिए जिला मुख्यालय पर 40 जिला औषधि भंडार गृह स्थापित किए गए हैं। प्रदेश का कोई भी व्यक्ति किसी भी राजकीय चिकित्सालय में OPD एवं IPD पर जन आधार कार्ड के माध्यम से रजिस्ट्रेशन करवा कर लाभ उठा सकता है। 


Eligibility Criteria for Mukhyamantri Nishulk Dawa Yojana  

  • आवेदक राजस्थान का स्थाई निवासी होना चाहिए। 
  • आवेदक इनडोर एवं आउटडोर रोगियों में शामिल होना चाहिए।
  • मुख्यमंत्री निःशुल्क दवा योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक के पास परिवार का जन आधार कार्ड होना आवश्यक है।

Medicine List for Mukhyamantri Nishulk Dawa & Janch Yojana

  • Then page to search medicine list under Mukhyamantri Nishulk Dava Yojana will open.
  • Select category, type of hospital and click "Search" button to get MNDY medicine list.

मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना के लाभ 

उच्‍च गुणवत्‍ता व कम लागत की चिकित्‍सा सेवाएं प्रदान करने की दिशा में ऐतिहासिक और संवेदनशील पहल, जिसके अन्‍तर्गत:-
  • राज्‍य की जनता को बेहतर स्‍वास्‍थ्‍य सेवाओं के लिए सामान्‍य उपयोग में आने वाली आवश्‍यक दवाईयों का नि:शुल्‍क वितरण किया जा रहा है।
  • आम वर्ग के दवा पर होने वाले खर्च में कटौती हो रही है।
  • धन की कमी के चलते चिकित्‍सा सेवाओं से वंचित लोगों का ईलाज सम्‍भव होगा।
  • दवाईयां व इन्‍जेक्‍शन आदि के साथ साथ सामान्‍यत: उपयोग में आने वाले सर्जिकल आईटम्‍स जैसे नीडल, डिस्‍पोजेबल सिरीज, आईवीए ब्‍लड ट्रान्‍सफ्यूजन सेट व टांकों हेतु सूजर्स आदि भी नि:शुल्‍क उपलब्‍ध करवाये जा रहै है।
  • दवा सूची में 1594 प्रकार की दवाइयां, 928 सर्जिकल एवं 185 सूचर्स को सम्मिलित किया गया है।
  • इस योजना के माध्यम से लगभग 2707 औषधियां सर्जिकल एवं सूचर्स निःशुल्क उपलब्ध करवाई जा रही हैं।
  • आउटडोर रोगियों के लिए दवा वितरण केंद्र ओपीडी के समयानुसार सुनिश्चित किया गया हैं।
  • इंडोर एवं आपातकालीन मरीजों के लिए दवा की उपलब्धता 24 घंटे सुनिश्चित करवाई जा रही हैं।

कौन होंगे मुख्यमंत्री नि:शुल्क दवा योजना के लाभार्थी

राजकीय अस्‍पताल में आने वाले सभी मरीजों को सर्वाधिक उपयोग में आने वाली आवश्‍यक दवाईयां 02 अक्‍टुबर 2011 से नि:शुल्‍क उपलब्‍ध करवाई जा रही है। साथ ही राजकीय चिकित्‍सालयों में थेलेसीमिया और हिमोफिलिया के मरीजों को चिकित्‍सा सुविधा भी नि:शुल्‍क उपलब्‍ध करवाई जा रही है। आइये अब जानते है की कौन होंगे मुख्यमंत्री निःशुल्क दवा योजना के लाभार्थी:- 
  • राजकीय अस्‍पताल में उपचार के लिए आने वाले समस्‍त बहिरंग (OPD) मरीज ।
  • राजकीय अस्‍पताल में भर्ती (IPD) मरीज।
  • समस्‍त राजकीय अधिकारी, कर्मचारी, एवं सेवानिवृत्त राज्‍यकर्मी (पेंशनर्स)। (सेवानिवृत्त राज्‍य कर्मचारियों के लिए डायरी व्‍यवस्‍था पूर्ववत् जारी रहेगी।
  • निम्‍न को पूर्व की भांति "मुख्‍यमंत्री जीवन रक्षा कोष" के अन्‍तर्गत लाभ मिलता रहेगा।
    • बीपीएल/स्‍टेट बीपीएल
    • आस्‍था कार्डधारी
    • एचआईवी एड्स के रोगी
    • वृद्धावस्‍था पेंशनधारी (सामाजिक न्‍याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा अनुमोदित)
    • विकलांग व‍ विधवा पेंशनधारी (सामाजिक न्‍याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा अनुमोदित)
    • जोधपुर शहर की चार नट व सांसी बस्तियों में रहने वाले परिवार
    • अन्‍त्‍योदय अन्‍न योजना (बांरा जिले के एपीएल सहरिया परिवार)
    • अन्‍नपूर्णा योजना के लाभार्थी
    • कथौडी जनजाति के समस्‍त परिवार
    • मेहरानगढ दुर्ग जोधपुर दु:खान्तिका के पीडित परिवार
    • बीपीएल/स्‍टेट बीपीएल परिवार के नि:सन्‍तान दम्‍पत्ति
    • थेलेसीमिया और हिमोफिलिया से पीडित मरीज (2 अक्‍टूबर 2011 से)।
    • सामाजिक न्‍याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा संचालित व अनुमोदित अनाथालय के बच्‍चे, शारीरिक व मानसिक विमंदित बच्‍चे जो सामाजिक न्‍याय एवं अधिकारिता विभाग के अथवा उनके अनुमोदित विद्यालय के विद्यार्थी एवं सामाजिक न्‍याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा संचालित/अनुमोदित नारी निकेतन में निवासरत महिलाएं।

मुख्य मंत्री नि:शुल्क दवा योजना आवेदन के लिए समर्थन दस्तावेज 

मुख्य मंत्री नि:शुल्क दवा योजना के लिए आवेदन हेतु आवेदक के पास निम्नलिखित दस्तावेज होने आवश्यक है:-
  • शुल्क की रसीद* : फीस रसीद का तात्पर्य मरीज की पंजीकरण पर्ची
  • नोट : *आवेदन करने के लिए अनिवार्य दस्तावेज को दर्शाता है |
मुख्यमंत्री निःशुल्क दवा योजना एवं निःशुल्क जांच योजना का सुद्रढीकरण कर राज्य सरकार द्वारा आमजन के स्वास्थ्य में निरन्तर सुधार की प्रक्रिया जारी है। इस योजना का लाभ राज्य की सम्पूर्ण जनता के लिये उपलब्ध कराया जा रहा है तथा राज्य का कोई भी व्यक्ति दवा के अभाव में चिकित्सा सुविधा से वंचित नहीं है। राज्य के लिये आवष्यक दवा सूची (Essential Drug List) तैयार की गई है।  चिकित्सालय में आवश्यकता होने पर वार्षिक बजट का 10 प्रतिशत स्थानीय स्तर पर दवा क्रय (Local Purchase) किये जाने का प्रावधान रखा गया है। 


Rajasthan MNDY उपचार की अवधि (Duration of Treatment) 

  • सामान्यता रोगी को तीन दिन की निःशुल्क दवा उपलब्ध कराई जाती है। 
  • अति-आवश्यक होने पर या विशेष परिस्थितियों में कारण इंगित करते हुये 7 दिन तक की दवा दी जा रही है.
  • लम्बी बीमारी यथा ब्लड प्रेशर/डायबिटिज/हार्ट डिजिज/मिर्गी/एनिमिया आदि के रोगियों व पेंशनर्स को एक माह तक की अवधि की दवाईयां उपलब्ध कराई जा रही है।

मुफ्त दवाओं का गुणवत्ता परीक्षण

दवाओं की गुणवत्ता की जांच ड्रग टेस्टिंग लैबोरेट्रीज द्वारा सुनिश्चित की जा रही है। आरएमएससी द्वारा दवा प्राप्त करने के पश्चात् उसे निषेध क्षैत्र (Quarantine Area) में रखा जाता है एवं पुनः इन दवाईयों की प्रयोगशाला जांच आरएमएससी द्वारा सूचीबद्ध प्रयोगशाला में की जाती है तथा दवाईयों के जांच में खरा उतरने के पश्चात् आम जनता को वितरण के लिये अस्पतालों को जारी की जाती है।

MNDY Achievements (उपलब्धि)

  • राजकीय चिकित्सा महाविद्यालयों से संबद्ध चिकित्सा संस्थानों पर औषधियों, सर्जिकल एवं सूचर्स की आपूर्ति निर्बाध रूप से सुनिश्चित करने केउदेश्य से चिकित्सा महाविद्यालयों से सम्बद्ध चिकित्सा संस्थानो हेतु अलग से मेडिकल काॅलेज औषधि भंडार गृहों का निर्माध एवं संचालन किया गया है। वर्तमान में 5 राजकीय चिकित्सा महाविद्यालयों हेतु अलग से मेडिकल काॅलेज औषधि भंडार गृृह कार्यरत है एवं एसएमएस मेडिकल काॅलेज हेतु औषधि भंडार गृृह के निर्माण का कार्य प्रगति पर है।
  • स्वाइन फ्लू के उपचार में उपयोग में ली जाने वाली ओसाल्टामावीर औषधि की चार स्ट्रेन्थ्स (30mg, 45mg, 75mg कैपसूल एवं 75ml सिरप) एवं नवजात बच्चों को लगने वाला विटामिन K1 इंजेकशन को निगम द्वारा तैयार आवश्यक दवा सूची में शामिल किया गया है।
  • मलेरिया रोग के नियंत्रण हेतु पांच प्रकार के ए.सी.टी (Artemisinin Combination Therapy) पैक्स को आवश्यक दवा सूची में शामिल किया गया है।
  • किशोरी बालिकाओं को सैनेटरी नैपकिन वितरण योजना अन्तर्गत वितरित किये जाने वाले बैल्टलैस सैनेटरी नैपकिन को निगम की आवश्यकता दवा सूची में शामिल किया गया है।
  • दवाओं के समुचित एवं प्रभावी उपयोग सुनिश्चित करने हेतु निगम द्वारा मानक उपचार निर्देशिका (Standard Treatment Guidelines- STG) एवं आवश्यक दवा सूची (Essential Drug Lis - EDL) तैयार कराकर सभी राजकीय चिकित्सकों (चिकित्सा शिक्षा विभाग एवं चिकित्सा स्वास्थ्य विभाग) को उपलब्ध करायी गयी।
  • जिला/मेडिकल काॅलेज भण्डार गृहों पर औषधियों के रख-रखाव हेतु हैवी ड्यूटी रैक्स, पैलेट्स एयर ट्रक्स, आवश्यक फर्नीचर आदि उपकरण उपलब्ध कराये गये है।
  • नवीनतम सांख्यिकी- वर्तमान में निगम अन्तर्गत 40 जिला औषधि भण्डार गृह एवं 5 मेडिकल कालेज औषधि भण्डार गृह संचालित है।

Nishulk Dawa Yojana के अंतर्गत Stock Computerisation

दवाओं के स्टांक के प्रबन्धन हेतु जिला औषधि भण्डार को कम्प्यूटराइजेशन कर विषेष आनलाइन मानिटरिंग (E-Aushadhi) प्रणाली स्थापित की गई है, जिसमें सभी चिकित्सा संस्थानों की सूची के साथ-साथ दी जाने वाली दवाईयों की सूची भी उपलब्ध है। इस आनलाईन साफ्टवेयर (E-Aushadhi) के माध्यम से टेण्डरिंग करने, इनडेन्ट भेजने, चिकित्सा संस्थानों पर दवाईयों के उपभोग की स्थिति जानने, घोषित औषधियों के बारे में सूचना प्रेषित करने आदि में मदद मिलती है तथा औषधियों का समुचित उपयोग सुनिश्चित होता है। अस्पतालों को दी जाने वाली दवाईयों का विवरण भी इस साफ्टवेयर में दर्ज होता है जिससे आवकता अनुसार रिपोर्ट प्राप्त की जाती है। 

Detailed information about MNDY scheme can be checked at Jankalyan Rajasthan Portal.

Post a Comment

0 Comments