YOGIYOJANA.CO.IN : सरकारी योजनाओं की जानकारी हिंदी और अंग्रेजी में, सरकारी योजना : Sarkari Yojana in Hindi / English | प्रधानमंत्री व राज्य सरकार की योजनाएं 2020​

Wednesday, 24 June 2020

हरियाणा पशु किसान क्रेडिट कार्ड योजना ऑनलाइन आवेदन / पंजीकरण फॉर्म | Haryana Pashu Kisan Credit Card Yojana Online Apply / Registration Form

**मेरे प्यारे साथियो** आज हम आपको हरियाणा पशु किसान क्रेडिट कार्ड योजना ऑनलाइन आवेदन / पंजीकरण फॉर्म 2020 के बारे में बतायेंगे। इस PKCC क्रेडिट कार्ड स्कीम के लिए एप्लीकेशन / रजिस्ट्रेशन फॉर्म भरने की प्रक्रिया यहाँ पर बताई गयी है। इस योजना के अंतर्गत सभी पशुपालक किसानो को 4% रिआयती ब्याज दरों पर लोन उपलब्ध करवाया जाएगा जो 1 वर्ष की अवधि में लौटना होगा। पशु किसान क्रेडिट कार्ड योजना के तहत दिया गया ऋण पशुपालन को बढ़ावा देगा क्योकि किसानो को मछली पालन, मुर्गी पालन, भेड़, बकरी, गाय, घोड़ा, ऊंट, भैंस पालन के लिए काम ब्याज दरों पर ऋण मिल सकेगा।

हरियाणा पशु किसान क्रेडिट कार्ड में किसानो के लिए क्रेडिट 76,300 रुपये प्रति मुर्रा भैंस रूपये, 71,325 रुपये प्रति विदेशी गाय  और 70,825 प्रति देशी गाय होगा। हरियाणा सरकार अब किसान क्रेडिट कार्ड योजना 2020 की शुरुआत करेगी। सभी किसान जिनके पास अपना पशु है वे आवेदन / पंजीकरण फॉर्म भर कर अप्लाई कर सकते है। वित्त वर्ष 2019 -2020 के दौरान क्रेडिट कार्ड प्राप्त करने वाले लगभग 10 लाख किसानो और आने वाले वर्षो में क्रेडिट कार्ड प्राप्त करने वाले किसानो की संख्या में बढ़ोतरी होगी।
हरियाणा सरकार पशुधन के साथ सभी किसानो के लिए पशु किसान क्रेडिट कार्ड योजना शुरू की है। पशु किसान क्रेडिट कार्ड के साथ किसान ऋण पर ब्याज में रियायत प्राप्त कर सकते है और उन्हें अपनी जरूरत की कोई भी चीज खरीद सकते है। यह योजना बिलकुल किसान क्रेडिट कार्ड योजना के तर्ज पर शुरू की जाएगी। पशु किसान क्रेडिट कार्ड एप्लीकेशन / रजिस्ट्रेशन फॉर्म को कैसे भरना है, इसकी प्रक्रिया की जांच करे। आइए इससे जुडी पूरी जानकारी प्राप्त करे। 

हरियाणा पशु किसान क्रेडिट कार्ड योजना ऑनलाइन एप्लीकेशन / रजिस्ट्रेशन फॉर्म

सभी पशुधन के मालिक किसान हरियाणा पशु किसान क्रेडिट कार्ड योजना के सदस्य होंगे। किसानो को 76,300 प्रति मुर्रा भैंस, विदेशी गाय 71,325 और 70,825 प्रति देशी गाय है। इन क्रेडिट कार्ड के अलावा किसान कुछ भी खरीद सकते है और रियाती अवधि 4% ब्याज दर प्राप्त करने के लिए 1 साल है। अन्यथा ब्याज दरें बढ़ जाएंगी और किसान भी डिफाल्टर हो जाएंगे। 

बिना किसी ब्याज के ऋण प्राप्त करे

इस योजना के तहत रूपये तक के ऋण पर कोई ब्याज नहीं लिया जाएगा। जैसा कि ऊपर बताया गया है कि  किसानो को 1.6 लाख पर 7 %ब्याज दर पर पशु किसान क्रेडिट कार्ड योजना के तहत ब्याज दिया जाएगा। इसमें केंद्रीय सरकार 3 %ब्याज अनुदान और हरियाणा राज्य सरकार बाक़ी 4 % पर लाभ प्रदान करेगा। इस तरीके से हरियाणा पशु क्रेडिट कार्ड योजना के तहत लिया गया ब्याज बिना किसी ब्याज के होगा। हरियाणा के सभी पशुपालक पशु किसान क्रेडिट कार्ड योजना का लाभ उठा सकते है। 

हरियाणा में पशु किसान क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन / पंजीकरण प्रक्रिया

हरियाणा में पशु किसान क्रेडिट कार्ड आवेदन करने के लिए आवेदन /पंजीकरण फॉर्म भरने की पूरी प्रक्रिया दी गई है:-
  • हरियाणा में पशु किसान क्रेडिट कार्ड के कार्यान्वयन की रणनीति में 24 डेयरी दूध संयत्रो के साथ गठबंधन शामिल है इन डेयरी मिल्क प्लांट्स के पास राज्य भर के चिलिंग सेंटर्स के साथ दूध संग्रह बिंदु है। 
  • डेटा ऑपरेटरो और पशुपालन विभाग के अधिकारियो को इन दूध संग्रह केन्द्रो पर भरे गए किसानो का पशु किसान किसान क्रेडिट कार्ड आवेदन पत्र मिलेगा। 
  • इसके बाद प्रत्येक डेयरी पशु का विवरण "हर पशु का ज्ञान" ऍप से 1 चित्र के साथ लिया जायेगा। इस ऍप का इस्तेमाल पशुपालन विभाग ने पशुधन की जनसंख्या के लिए किया था। 
  • विवरण पूरा होने पर, विभाग बैंको के साथ बाद की कार्रवाई करेगा ताकि अगले दिन दूध संग्रह केंद्र पर किसानो को पशु किसान क्रेडिट कार्ड लागू किए जाएं और वितरित किए जा सके। 
हरियाणा में पशु किसान क्रेडिट कार्ड क्षेत्र के मुख्य खनिज मिश्रण जैसे बेहतरीन पोषण प्रदान करने के लिए किसानो को बलशाली बनाने जा रहे है और जानवरो के लिए चटाई और पंखे भी मिलते है। इस योजना से हरियाणा में खेल परिवर्त्तक बनाने की उम्मीद है। किसानो के पास जब भी पैसा होगा वह फिर भुगतान कर सकेगा और कुशलता से धन का उपयोग कर सकेगा। 

वैकल्पिक विधि

पशु क्रेडिट कार्ड प्राप्त करने के लिए अपने बैंको में जाएं और इसके लिए आवेदन करे। इस परियोजना के लिए बैंक में ही एक आवेदन जमा करना होगा। पशु किसान क्रेडिट कार्ड आवेदन पत्र के साथ पहचान पत्र, आधार कार्ड, पासपोर्ट आकार की फोटो जैसे कागजात जमा करने होंगे। यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि यह योजना केवल हरियाणा निवासियों के लिए है। आवेदन फॉर्म को शुरू करने के बाद आपका पशु क्रेडिट कार्ड 1 महीने की अवधि में भेजा जाएगा। 

पशु किसान क्रेडिट कार्ड योजना  ऋण कैसे प्राप्त करे 

इस योजना में किसानो को पशुपालन और डेयरी विभाग के उपनिर्देशक को एक हलफनामा देना होगा। इससे पहले किसान को अपने पशु का बीमा भी करवाना होगा। इसके लिए 100 रूपये का भुगतान करना होगा।
 

ऋण का विवरण

हरियाणा सरकार इस योजना के तहत ऋण देता है। 40,783 किसान जो एक गाय का मालिक है। हर महीने 6 किस्तों पर क्रेडिट कार्ड के माध्यम से किसानो को ब्याज दिया जाएगा। इसके सामान रूपये तक का ऋण भैंस रखने वाले किसानो को 60,249 रूपये दिए जायेंगे। 1 वर्ष के भीतर 4 %प्रति वर्ष के ब्याज के साथ पैसा वापिस करना होगा। जो किसान अपना ऋण समय पर चुकाते है उन्हें बहुत लाभ मिलेगा। 

यदि किसान पशु क्रेडिट कार्ड के माध्यम से 1.6 लाख  रूपये से ऊपर का ऋण लेता है तब उसे सामान्य ब्याज दर पर ऋण मिलेगा। इस ऋण के लिए किसान को गिरवी कुछ रखना होगा। यहां भी यदि किसान एक साल के अंदर ऋण की राशि का भुगतान करता है तो उसे ब्याज पर लाभ मिलेगा। 

हरियाणा पशु किसान क्रेडिट कार्ड के पुनर्भुगतान अनुसूची 

हरियाणा पशु किसान क्रेडिट कार्ड के पुनर्भुगतान अनुसूची को आसानी से समझ सकते है। उधारण के लिए यदि कोई किसान 4000 रूपये का डीजल 4 जुलाई 2019 को खरीदता है तो फिर उसे 3 जुलाई 2020 तक पैसा चुकाना होगा। इसी तरह अगर कोई 9000 रूपये का फ्रिज या ट्यूशन फीस या कोई खर्चा 9 अगस्त 2019 को करता है फिर उन्हें रियायती 4% ब्याज दर का लाभ उठाने के लिए 8 अगस्त 2020 से पहले उस राशि को वापिस करना होगा। 

इन पशु किसान क्रेडिट कार्ड का मुख्य उद्देश्य किसानो का धन उधारदाताओं के ब्याज से मुक्त करना और उनके उपभोक्ता आय को बढ़ावा देना है। राज्य सरकार हरियाणा के वित्त साल 2019-2020 में 10 लाख पशु किसान क्रेडिट कार्ड देने का लक्ष्य है। पशु किसान क्रेडिट कार्ड की नई सुविधा मछली पालन, झींंगा और अन्य जलीय जीवो के पालन पोषण के लिए अल्पावधि ऋण जरूरतों को पूरा करेगी। 

इसके समान, खारे पानी के झींगे के लिए 92,800 रूपये की दर तय की गई है। श्रम, पशु चिकित्सा और बिजली की आपूर्ति लागत को शामिल करने के बाद हरियाणा सरकार ने इस दर को तय किया है। लगभग 89 लाख पशुधन प्रतिदिन 44 लाख लीटर दूध का उत्पादन करता है। लगभग 29 लाख किसान परिवार है जो अपनी दैनिक आय के लिए पशुधन पर निर्भर है।   

No comments:

Post a comment