YOGIYOJANA.CO.IN : सरकारी योजनाओं की जानकारी हिंदी और अंग्रेजी में, सरकारी योजना : Sarkari Yojana in Hindi / English | प्रधानमंत्री व राज्य सरकार की योजनाएं 2020​

Friday, 12 June 2020

rojgarsetu.mp.gov.in पोर्टल - मध्य प्रदेश रोजगार सेतु योजना ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म | MP Rojgar Setu Yojana 2020 Application / Registration Form

**मेरे प्यारे साथियो** आज हम आपको मध्य्प्रदेश रोजगार सेतु योजना के बारे में बतायेंगे। इस रोज़गार सेतु योजना की शुरुआत 26 मई 2020 को मध्य प्रदेश सरकार में माननीय मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जी द्वारा की गयी है। सभी कुशल श्रमिक और नियोक्ता अब मध्य प्रदेश रोजगार सेतु योजना ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म नए rojgarsetu.mp.gov.in या sambal.mp.gov.in/RojgarSetu/ पोर्टल पर भर सकतें हैं। सभी कौशल प्रवासी मजदूर जो इस पोर्टल पर रोजगार सेतु के अंतर्गत पंजीकरण (रजिस्ट्रेशन) करवाएंगे, उन्हें राज्य सरकार रोज़गार उपलब्ध कराएगी।
COVID-19 महामारी से अन्य राज्यों में नियोजित मजदूर अपने राज्य मध्यप्रदेश में अपने घर को वापिस आये है। स्थानीय प्रवासी मजदूरो को उनकी मेंहनत के अनुसार अपने संस्थान में काम-काज देकर उन्हें आत्मनिर्भर और बलशाली बनाने के लिए मध्यप्रदेश सरकार ने अपना योगदान दिया है। रोजगार सेतु योजना पर निर्माण मजदूरो की 43, अंसगठित मजदूरो की 40 और कारखानों में नियोजित 9 वर्गों के काबलियत व कौशल के अनुसार प्रवासी मजदूरो की जानकारी पंजीकृत की गई है। रोजगार सेतु योजना के माध्यम से कुशल मजदूरो को उनकी मेहनत के अनुसार उनके ही गांव /शहर के सही रोजगार मिलेगा।  

मजदूरों की आवश्यकता रखने वाले तथा नियोजन के लिए इच्छुक नियोक्ता /सूक्ष्म, लघु, मध्यम, व्रहद उद्योग /कारखाना/व्यावसायिक प्रतिष्ठान /संस्थाए /ठेकेदार /बिल्डर /भवन निर्माता /दुकान /मॉल /प्लेसमैंट एजेंसी रोजगार सेतु योजना पर पंजीयन कर सकते हैं। इस योजना के लिए सबको ऑनलाइन ही rojgarsetu.mp.gov.in पर आवेदन करना होगा। पंजीयन के उपरांत आपको योजना पर स्थानीय मजदूरो को अनुभव /कौशल तथा जिले के आधार की सूची प्राप्त कर सकेंगे और उपयुक्त पाए जाने पर मोबाइल नंबर पर सम्पर्क कर रोजगार उपलब्ध कर सकेंगे। 

मध्य प्रदेश रोजगार सेतु योजना पोर्टल ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन / एप्लीकेशन फॉर्म  

मध्य प्रदेश रोजगार सेतु  योजना पोर्टल पर नियोक्ता और कुशल प्रवासी श्रमिक ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन / एप्लीकेशन फॉर्म भर सकते हैं, जिसकी प्रक्रिया यहाँ पर दी गयी है। 

एमएसएमई, फैक्ट्री, नियोक्ता आवेदन / पंजीकरण प्रक्रिया 

सभी नियोक्ताों के लिए मध्य प्रदेश रोजगार सेतु योजना पोर्टल पर ऑनलाइन पंजीकरण (रजिस्ट्रेशन) की प्रक्रिया यहाँ पर दी गयी है:- 

  • सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट http://sambal.mp.gov.in/RojgarSetu/ पर जाएं। 
  • इसके बाद होमपेज पर "नियोक्ता / सूक्ष्म, लघु, मध्यम, व्रहद उद्योग / कारख़ाना/ व्यावसायिक प्रतिष्ठान /संस्थाए / ठेकेदार/ बिल्डर/ भवन निर्माता/ दुकान/ मौल / प्लेसमेंट एजेंसी का पंजीयन करें" बटन पर क्लिक करें:-
  • इस बटन पर क्लिक करने के बाद मध्य प्रदेश रोजगार सेतु योजना नियोक्ता ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन फॉर्म 2020 खुल जाएगा जो कुछ इस प्रकार दिखाई देगा:-
  • इस नियोक्ता ऑनलाइन आवेदन पत्र को ऑनलाइन भर कर MP रोजगार सेतु नियोक्ता पंजीकरण (रजिस्ट्रेशन) की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।       
रोजगार सेतु योजना के माध्यम से नियोक्ता अपने संस्थान में उपलब्ध मानव संसाधन की जानकारी रोजगार सेतु योजना पोर्टल पर प्रकाशित कर सकता है। पंजीयन के उपरांत आपकों पोर्टल पर स्थानीय श्रमिकों की अनुभव/कौशल तथा जिले के आधार पर की सूची प्राप्त कर सकेगे एवं उपयुक्त पाए जाने पर मोबाईल नम्बर पर संपर्क कर रोजगार उपलब्ध कर सकेगे|

प्रवासी कुशल मजदूर (श्रमिक) रजिस्ट्रेशन / एप्लीकेशन प्रक्रिया

कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण लॉक-डाउन की स्थिति में दूसरे राज्यों से अपने निवास स्थान पर आए प्रवासी श्रमिकों पोर्टल पर अपने ग्राम पंचायत/ वार्ड कार्यालय के माध्यम से पंजीयन कराये| पंजीयन मे श्रमिक अपने नियोजन, दक्षता व कौशल की जानकारी पोर्टल पर आवश्यक रूप से दर्ज कराये।
  • प्रवासी श्रमिक जो मध्यप्रदेश के मूल निवासी हैं, जिनका समग्र आईडी नहीं है, नियत प्रक्रिया अनुसार समग्र पोर्टल पर आईडी जनरेट की जाएगी। 
  • इसके बाद ही इन श्रमिकों का सर्वे, सत्यापन एवं पंजीयन कार्य पोर्टल पर समग्र आईडी का उल्लेख करते हुए सुनिश्चित किया जाएगा। 
  • जारी निर्देश अनुसार, पोर्टल पर समग्र आईडी तथा आधार कार्ड नंबर अंकित किया जाना अनिवार्य होगा। 
  • सर्वे, सत्यापन और पंजीयन उन्हीं श्रमिकों का किया जायेगा जो ‘मुख्यमंत्री जन-कल्याण (संबल) योजना’ अथवा ‘भवन एवं अन्य संनिर्माण कर्मकार कल्याण मंडल’ में पंजीयन की पात्रता रखते हैं।
  • पात्र प्रवासी श्रमिकों से निर्धारित सर्वे फार्म में जानकारी प्राप्त कर 3 जून 2020 के पहले पोर्टल पर अपलोड किए जाना तथा सर्वे फार्म को रिकार्ड में सुरक्षित रखे जाने के निर्देश दिए गए हैं। 
  • ग्राम पंचायत के सचिव तथा नगरीय क्षेत्रों में वार्ड प्रभारी सर्वे फार्म भरने में आवेदक की सहायता सुनिश्चित करेंगे। 
  • जिला कलेक्टर के मार्गदर्शन में यह सारी कार्यवाही की जायेगी। ग्रामीण क्षेत्र के लिये मुख्य कार्यपालन अधिकारी, नगरीय क्षेत्र के लिए मुख्य नगरपालिका अधिकारी तथा नगर निगमों में निगम आयुक्त द्वारा अधिकृत अधिकारी होंगे।
पंजीयन के उपरांत रोजगार सेतु पोर्टल पर सभी नियोक्ताओं को श्रमिकों का डाटा प्रदशित होगा। नियोक्ताओं द्वारा यथासंभव अपने संस्थानो मे आवश्यकता अनुसार स्थानीय श्रमिकों को उनके दक्षता व कौशल के अनुसार रोजगार उपलब्ध कराया जावेगा| पंजीकृत प्रवासी श्रमिकों के कौशल विकास हेतु प्रसाशन द्वारा यथा संभव प्रयास किए जावेगे|

मध्यप्रदेश रोजगार सेतु योजना का उदेश्य

हम सभी जानते है की कोरोनावायरस भयंकर महामारी के बीच सबसे ज्यादा प्रवासी मजदूरो ने तकलीफो का सामना किया है।  प्रवासी मजदूरो को पहले काम की तलाश में किसी राज्य जाना पड़ता था लेकिन खाने -पीने और रहने की सुविधा ना होने पर उन्हें वापिस अपने राज्य लौटना पड़ा। इसलिए मध्यप्रदेश सरकार ने राज्य से लौटे सभी लोगो को रोजगार दिलाने के लिए रोजगार सेतु योजना का ऐलान किया है। 

साथ ही इस योजना के माध्यम से लोगो को अधिक से अधिक रोजगार उपलब्ध कराए जाने का लक्ष्य तय किया है, ताकि लोग अब अपना काम यही करे किसी और राज्य में ना जाये। इस योजना का मुख्य उद्देश्य मजदूरो को काम दिला कर उनकी आर्थिक हालातो को मजबूत करना है ताकि वो खुशहाल रह सके। 

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी ने इस योजना की जानकारी टवीट के माध्यम से कहा है की, हर मजदूर का कल्याण मेरा संकल्प है। देश से दूसरे राज्यो से लौटे अपने मेहनती मजदूर भाई-बहनों को रोजगार देने के लिए मैंने #रोजगार -सेतु योजना बनाई है। 27 मई से इन मजदूरो की सूची बनाने का काम प्रारम्भ हो रहा है। इसलिए इनकी योग्यता के अनुसार इन मजदूरो को रोजगार की व्यवस्था की जा सकती है।सभी प्रवासी मजदूरो से निर्धारित सभी फॉर्म में जानकारी प्राप्त कर 3 जून 2020 के पहले योजना पर अपलोड किए जाना तथा सभी फॉर्म को रिकॉर्ड में सुरक्षित रखे जाने के आदेश दिए गए है।  

क्या है रोजगार सेतु योजना

इस योजना के माध्यम से एक ऐसी योजना तैयार की जाएगी जहां व्यपारियो और काम की इच्छा रखने वाले लोगो को एक साथ लाया जाएगा। ऐसे लोग जो किसी भी प्रकार का काम करना चाहते है वो यहां काम कर सकते है। लोगो को अपनी क़ाबलियत के हिसाब से काम मिलेगा। इसमें मजदूरो और व्यापारियों को हम एक साथ माध्यम से जोड़ेंगे, ताकि दोनों की जरूरते पूरी हो जाये।  

मध्य प्रदेश रोजगार सेतु योजना के लाभ

मध्य प्रदेश रोजगार के कई लाभ हैं जिनमे से कुछ यहाँ पर दिए गए है:-  
1) इस योजना का लाभ मध्यप्रदेश में लौटकर प्रवासी मजदूरो को होगा। 
2) योजना का लाभ उठाने के लिए पंजीकरण करना अनिवार्य होगा। 
3) पंजीकरण करते समय अपने काम से जुड़े हुए परिवर्तनों को दर्ज करना जरुरी है 
4) मध्यप्रदेश के निवासियों को रोजगार के अवसर प्रदान किये जायेंगे। इस योजना में मजदूरो को उनकी क़ाबलियत के हिसाब से काम दिया जायेगा। 
5) सभी प्रवासी मजदूरो को अपना पंजीकरण हेतु योजना का  स्वरूप ऑनलाइन ही भरना होगा। 
कोरोनावायरस की वजह से अब तक लगभग 5 लाख मजदूर मध्यप्रदेश में लौट आए है और बताया जा रहा है की जल्दी ही बहुत से मजदूर भी वापिस यहां आ जाएंगे।
 

इन क्षेत्रों में रोजगार मुहैया करवाए जाएंगे

रोजगार सेतु योजना के तहत वापिस अपने घर लौट कर आए मजदूर और  अन्य मध्यप्रदेश के लोगो को रोजगार के अधिक अवसर उपलब्ध कराए जाएंगे। सभी राज्यों से लौटे प्रवासी मजदूरो की भी सूची तैयार की जा रही है। बताया जा रहा है की राज्यो से लौटने वाले मजदूरो की संख्या लगभग 5 लाख है। इन सभी कौशल प्रवासी श्रमिकों को निम्नलिखित क्षेत्रों में रोजगार उपलब्ध करवाए जाएंगे:-     
  • भवन और अन्य निर्माण मजदूर वर्ग।  
  • ईट भट्टा खनन।  
  • कपडा उद्योग।  
  • फैक्ट्री।  
  • कृषि और संबद्व आंदोलनों।  
  • इसके अलावा बहुत अन्य सेक्टर्स।  
इन सभी लोगो को राज्य में ही रोजगार मिल जाए, ऐसा प्रयास मुख्यमंत्री जी शिवराज सिंह चौहान जी द्वारा किया जा रहा है। रोजगार सेतु योजना के लिए पहले चरण में काम होना भी शुरू हो गया है।

रोजगार सेतु योजना पर मुख्यतः पूछे जाने वाले प्रश्न 

1) रोजगार सेतु योजना का उद्देश्य क्या है ?
मध्यप्रदेश में रहने वाले और अन्य राज्यों से लौटे हुए प्रवासी मजदूरों को रोजगार के अवसर देना ही इस योजना का उद्देश्य है। 

2) क्या इस योजना का लाभ देने के लिए दूसरे राज्यों  से लौटे मजदूरो की सूची तैयार की जा चुकी है ?

27 मई से सूची बनाने का काम शुरू हो चूका है और जल्द ही सूची तैयार हो जाएगी।

3) रोजगार सेतु योजना की घोषणा कब हुई ? 

26 मई 2020 को मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस योजना की घोषणा की है। 

4) इस योजना का लाभ लेने के लिए किन बातों का ध्यान रखना चाहिए ?

सबसे पहले तो यह सुनिश्चित कर ले कि अपने समग्र आईडी बना ली है ,इसके लिए समग्र योजना पर पंजीयन करना होगा इससे अलग  आधार या अन्य जानकारी के अनुसार पूछा जा सकता है। अगर आपके पास कोई पक्का सर्टिफ़िकेट है तो वह भी जरूर साथ रखेगा आपके काम के अनुरूप रोजगार मिलने में मदद मिलेगी। 

No comments:

Post a comment