YOGIYOJANA.CO.IN : सरकारी योजनाओं की जानकारी हिंदी और अंग्रेजी में, सरकारी योजना : Sarkari Yojana in Hindi / English | प्रधानमंत्री व राज्य सरकार की योजनाएं 2020​

Tuesday, 3 November 2020

हरियाणा महिला एवं किशोरी सम्मान योजना और मुख्यमंत्री दूध उपहार योजना 2020 | Haryana Mahila Evam Kishori Samman Yojana & Mukhyamantri Doodh Uphar Yojana 2020

**मेरे प्यारे साथियों** आज हम आपको हरियाणा महिला एवं किशोरी सम्मान योजना और मुख्यमंत्री दूध उपहार योजना के बारे में बताएंगे। इन योजनों की शुरुआत हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर जी के द्वारा 5 अगस्त को की गई है। हरियाणा मुख्यमंत्री दूध उपहार योजना (Mukhyamantri Doodh Uphar Yojana) 2020 में बच्चों, गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को मुफ्त फोर्टीफ़िएड दूध मिलेगा। हरियाणा महिला एवं किशोरी सम्मान योजना (Mahila Evam Kishori Samman Yojana) 2020 में बीपीएल लड़कियों और महिलाओ को मुफ्त सैनिटरी नैपकिन प्रदान किए जाएंगे। 

हरियाणा मुख्यमंत्री दूध उपहार योजना 2020 में आंगनवाड़ी केंद्रों मे आने वाली महिलाओं को एक हफ्ते में 6 दिनों के लिए 200 मिली लीटर दूध प्रतिदिन मिलेगा। यह सुगन्धित दूध 6 फ्लेवर में आएगा जो हैं चॉकलेट, गुलाब, इलाइची, वनीला, प्लेन और बटरस्कॉच। हरियाणा महिला एवं किशोरी सम्मान योजना 2020 में सभी गरीबी रेखा से नीचे परिवार की महिलाएं जिनकी उम्र 10 से 45 साल के बीच है, वो इसकी लाभार्थी होंगी। इस योजना के अंतर्गत 6 सेनेटरी पैड का 1 पैकेट औरतों और लड़कियों को हर महीने मुफ्त प्रदान किए जाएंगे।
तो आइए इन दोनों योजनों हरियाणा महिला एवं किशोरी सम्मान योजना और मुख्यमंत्री दूध उपहार योजना से जुडी विस्तृत जानकारी हम आपको देते है।

हरियाणा महिला एवं किशोरी सम्मान योजना 2020 - पूरी जानकारी 

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से एक नई महिला एवं किशोरी सम्मान योजना (Haryana Mahila Evam Kishori Samman Yojana) शुरू कर दी है। इस स्कीम में गांवो में गरीबी रेखा (बीपीएल) श्रेणी की महिलाओं और लड़कियों को मुफ्त सैनिटरी नैपकिन (पैड) प्रदान किए जाएंगे।

हरियाणा महिला एवं किशोरी सम्मान योजना के उद्देश्य

हरियाणा महिला एवं किशोरी सम्मान योजना का मुख्य उद्देश्य मासिक धर्म स्वच्छता और महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देना है। प्रत्येक महिला / लड़की जिस की उम्र 10 साल से 45 साल के बीच है, उन्हें हर महीने 6 सेनेटरी पैड का एक पैकेट बिल्कुल मुफ्त प्रदान किया जाएगा। हरियाणा राज्य में 11,24,871 बीपीएल परिवार है। गाँव में रहने वाले बीपीएल परिवारों में प्रत्येक लड़की को सेनेटरी नैपकिन उपलब्ध कराने के लिए 39.80 करोड़ रूपये की राशि आवंटित की गई है।
 
हरियाणा मुख्यमंत्री महिला एवं किशोरी सम्मान योजना 2020 में आंगनवाड़ी कार्यकर्त्ता लोगों के घर पर जाकर लाभार्थियों को मुफ्त सैनेटरी नैपकिन बांटेगी। लोग अब बीपीएल महिलाओं या लड़कियों के लिए मुफ्त स्वच्छता नैपकिन वितरण योजना की पात्रता मानदंड और महत्वपूर्ण विशेषताओं की जांच कर सकते है। 

हरियाणा मुफ्त सैनिटरी नैपकिन वितरण योजना के लिए पात्रता मानदंड 

हरियाणा मुफ्त स्वच्छता नैपकिन वितरण योजना की पात्रता मानदंड नीचे दिए गए है:-
  1. वह हरियाणा राज्य का निवासी होना चाहिए। 
  2. लड़की की आयु 10 साल से कम नहीं होनी चाहिए। 
  3. महिलाओं की आयु 45 साल से ज्यादा नहीं होनी चाहिए। 
  4. लड़की / महिला गरीबी रेखा से नीचे (बीपीएल) श्रेणी की होना चाहिए। 
हरियाणा सरकार के अधिकार क्षेत्र में किसी भी गांव में रहने वाली लड़की / महिला ही इस योजना की पात्र होंगी। 
जो महिलायें उपयुक्त मानदंडों को पूरा करती है, उन्हें हरियाणा महिला विकास किशोरी सम्मान योजना 2020 के तहत सैनेटरी पैड दिए जाएंगे। 

फ्री सैनेटरी पैड डोरस्टेप डिलीवरी योजना की मुख्य विशेषताएं 

इस मुफ्त सैनेटरी पैड डोरस्टेप डिलीवरी योजना की महत्वपूर्ण विशेषताएं इस प्रकार है:-
  • ये सेनेटरी पैड 6 सेनेटरी पैड्स से युक्त पैकेट में बिलकुल मुफ्त में उपलब्ध रहेंगे। 
  • इस मुफ्त सेनेटरी नैपकिन का निपटान करना आसान है जो पर्यावरण को साफ़ रखने में मदद करेगा। 
  • बायोडिग्रेडेबल पैड उच्च गुणवत्ता के है और गरीब महिलाओं के लिए स्वच्छता, स्वास्थ्य और सुविधा को बढ़ावा देंगे। 
  • यह योजना मासिक धर्म स्वच्छता को बढ़ावा देगी जिससे लड़कियों और महिलाओं को बहुत राहत मिलेगी और इसके परिणाम-स्वरुप महिला सशक्तिकरण होगा। 
  • हरियाणा मुफ्त सेनेटरी पैड डिस्टीब्यूशन स्कीम Waste to Wealth Management के अंतर्गत एक बड़ी पहल है। 
इस योजना के साथ राज्य सरकार ने महिलाओं में मासिक धर्म स्वच्छता को बढ़ावा देने पर ध्यान केंद्रित कर रहा है और यहां तक कि बायोडिग्रेडेबल पैड के उपयोग से बीमारियों का बचाव होता है और साथ में पर्यावरण की भी रक्षा होती है। 

राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण 4 - रिपोर्ट

वित्तीय वर्ष 2015-2016 में आयोजित राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण 4 की रिपोर्ट के अनुसार 15 से 24 साल के आयु वर्ग की 58% युवा महिलाऐं मासिक धर्म सुरक्षा के लिए कपडे का उपयोग करती है। कपडे का इस्तेमाल करने से बीमारियां होती है। NFHS-4 रिपोर्ट यह भी बताती है कि 42% युवा महिलाएं सेनेटरी नैपकिन का उपयोग करती है, जिसमे से 16% महिलाएं उन पैड का उपयोग करती है जो स्थानीय स्तर पर निर्मित होते है। 

इसके अलावा शहरी क्षेत्रों में लगभग 78% महिलाएं स्वच्छता सेनेटरी नैपकिन पैड का उपयोग करती है जबकि ग्रामीण क्षेत्रों में केवल 48% महिलाएं ही स्वच्छ सेनेटरी नैपकिन का उपयोग करती है। इसलिए राज्य सरकारों  को यह सुनिश्चित करने की बहुत आवश्यकता है कि ग्रामीण महिलाएं भी बीमारियों से बचाव के लिए सेनेटरी पैड का उपयोग करें। इसके अलावा बाजार में उपलब्ध सभी सेनेटरी पैड गैर-बायोडिग्रेडेबल है, जिससे पर्यावरण को नुक्सान होता है। इसलिए हरियाणा महिला और किशोरी सम्मान योजना के अंतर्गत दिए जाने वाले सेनेटरी नैपकिन पर्यावरण को बचाएंगे क्योंकि ये जैव-अपघट्य है।
 

हरियाणा मुख्यमंत्री दूध उपहार योजना 2020 - पूरी जानकारी 

हरियाणा सरकार ने 5 अगस्त 2020 को मनोहर लाल खट्टर जी के नेतृत्व में मुख्यमंत्री दूध उपहार योजना (Haryana Mukhyamantri Doodh Uphar Yojana) शुरू कर दी है। राज्य सरकार बच्चों, गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली माताओं के लिए फ्री स्किम्ड मिल्क प्रदान करेगी। CM Milk Gift Scheme को हरियाणा के बच्चो और माताओं में पोषण स्तर में सुधार लाने के लिए शुरू किया गया है। उन सभी बच्चों, गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली माताओं को जो आंगनवाड़ी केंद्रो में आती है, उन्हें अब 200 मिलीलीटर फोर्टिफाइड मिल्क पाउडर मिलेगा। मुख्यमंत्री दूध उपहार योजना में बच्चों और महिलाओ को अब सप्ताह में 6 दिन मुफ्त दूध मिलेगा।   

हरियाणा मुख्यमंत्री सुगन्धित दूध उपहार योजना के उद्देश्य

हरियाणा मुख्यमंत्री दूध उपहार योजना का मुख्य उद्देश्य बच्चों, गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली माताओं में पोषण के विकास में सुधार करना है। आंगनवाड़ी केंद्रो पर आने वाली प्रत्येक लाभार्थी महिलाओं और उनके छोटे बच्चों को अब 200 मिली लीटर सुगन्धित दूध मिलेगा। राज्य सरकार कुपोषण के उन्मूलन पर ध्यान केंद्रित करेगी और भविष्य की पीढ़ी को स्वस्थ बनाने के लिए पोषण स्तर को बढ़ावा देगी। COVID-19 महामारी के प्रकोप से पूरी दुनिया दुखी है इसी वजह से हरियाणा सरकार स्वास्थ्य पर विशेष जोर दे रही है। 

हरियाणा फ्री मिल्क वितरण योजना में दूध का स्वाद

बच्चों, गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली माताओं को दिया जाने वाला दूध अब 6 स्वादों में मिलेगा। इस हरियाणा फ्री मिल्क वितरण योजना में निम्नलिखित फ्लेवर शामिल होंगे जो नीचे सूचीबद्ध है:-
  • चॉकलेट
  • गुलाब
  • इलायची
  • वनीला
  • प्लेन 
  • बटरस्कॉच  
मुख्यमंत्री श्री @mlkhattar ने 5 अगस्त को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के द्वारा "महिला एवं किशोरी सम्मान योजना" और "सीएम दूध उपहार योजना" को लॉन्च किया है।

मुख्यमंत्री मुफ्त दूध वितरण योजना के प्रमुख लाभार्थी 

इस मुख्यमंत्री दूध उपहार योजना के लागू होने से 1 से 6 साल की आयु के लगभग 9.03 लाख बच्चों को लाभ प्राप्त होगा। इसके अलावा लगभग 2.95 लाख गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली माताओं को लाभ होगा। सुगन्धित दूध को एक साल में कम से कम 300 दिनों के लिए वितरित किया जाएगा। 

No comments:

Post a comment