YOGIYOJANA.CO.IN : सरकारी योजनाओं की जानकारी हिंदी और अंग्रेजी में, सरकारी योजना : Sarkari Yojana in Hindi / English | प्रधानमंत्री व राज्य सरकार की योजनाएं 2020​

Tuesday, 13 October 2020

झारखण्ड मुख्यमंत्री श्रमिक योजना जॉब कार्ड ऑनलाइन आवेदन / पंजीकरण पत्र - Jharkhand Mukhyamantri Shramik Yojana Job Card Application / Registration Form

**मेरे प्यारे साथियों** आज हम आपको झारखण्ड मुख्यमंत्री श्रमिक (शहरी रोजगार मंजूरी फॉर कामगार) योजना 2020 के बारे में बताने जा रहे है। इस आर्टिकल में आप मुख्यमंत्री श्रमिक योजना जॉब कार्ड ऑनलाइन आवेदन / पंजीकरण प्रक्रिया और एप्लीकेशन / रजिस्ट्रेशन फॉर्म के बारे में जान सकते हैं। साथ ही लोग अब अपने MSY जॉब कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं और नौकरी के लिए भी आवेदन पत्र भर सकते हैं।Jharkhand Mukhymantri Shramik (Shahri Rozgar Manjuri For Kamgar) Yojana के अंतर्गत शहर में रहने वाले गरीब लोगों जैसे की प्रवासी मजदूरों को राज्य सरकार कम से कम सौ दिन का रोजगार उपलब्ध कराएगी। इस योजना में नरेगा (NREGA) की तर्ज पर जॉब कार्ड भी दिए जाएंगे। झारखण्ड मुख्यमंत्री श्रमिक योजना जॉब कार्ड ऑनलाइन आवेदन / पंजीकरण फॉर्म अब http://msy.jharkhand.gov.in/ पर उपलब्ध है।   

मुख्यमंत्री शहरी रोजगार गारंटी योजना के तहत लोगो को महात्मा गाँधी ग्रामीण रोजगार योजना (मनरेगा) की तरह कम से कम 100 दिन के रोजगार की गारन्टी दी जाएगी। इस योजना में झारखण्ड के शहरो में रहने वाले 18 साल से ज्यादा उम्र के अकुशल मजदूरों को एक वित्त साल में 100 दिनों में काम करने का लाभ मिलेगा। झारखण्ड सरकार ने शहरी क्षेत्रों में गरीब लोगो के लिए एक नयी Jharkhand Mukhymantri Shramik (Shahri Rozgar Manjuri For Kamgar) योजना जॉब कार्ड 14 अगस्त 2020 को शुरु कर दी है। 
यह मुख्यमंत्री श्रमिक योजना 2020 शहरी गरीबो के लिए रोजी- रोटी की सुरक्षा बढ़ाने के लिए मुख्यमंत्री श्री हेमंत सोरेन जी के दिमाग की उपज है। यह महात्मा गाँधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारन्टी योजना की तरह शहरी अकुशल श्रमिको को रोजगार प्रदान करने के लिए 100 दिनों की नौकरी की गारन्टी योजना है। ग्रामीण क्षेत्रों के लिए बहुत सारी गरीबी कम करने की योजनाएं शुरु की गई है। शहरी क्षेत्रों के गरीबो को भी रोजगार की आवश्यकता है जिसमें ये योजना मददगार साबित होगी। आइये अब जानते हैं मुख्यमंत्री श्रमिक योजना जॉब कार्ड ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया और एप्लीकेशन फॉर्म कैसे भरना है। 

झारखण्ड मुख्यमंत्री श्रमिक योजना 2020 ऑनलाइन आवेदन / पंजीकरण प्रक्रिया

झारखण्ड मुख्यमंत्री श्रमिक योजना का आरंभ माननीय सीएम हेमंत सोरेन ने कर दिया है। राज्य मंत्रिमंडल की मंजूरी मिलने के बाद राज्य में मुख्यमंत्री प्रवासी श्रमिक रोजगार गारन्टी योजना को लागू कर दिया गया है। जिस तरह NREGA (नरेगा) योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में 100 दिन की रोजगार की गारंटी मिलती है, उसी प्रकार अब Jharkhand Mukhyamantri Shramik (Shahri Rozgar Manjuri For Kamgar) Yojana में भी शहरी गरीबों को 100 दिन की नौकरी की गारंटी मिलेगी। आइये अब झारखण्ड मुख्यमंत्री श्रमिक (शहरी रोजगार मंजूरी फॉर कामगार) योजना के तहत जॉब कार्ड बनवाने के लिए ऑनलाइन आवेदन / पंजीकरण प्रक्रिया बताते हैं। 
 

झारखण्ड मुख्यमंत्री श्रमिक योजना ऑनलाइन एप्लीकेशन / रजिस्ट्रेशन फॉर्म

झारखण्ड मुख्यमंत्री श्रमिक योजना के तहत जॉब कार्ड बनवाने के लिए ऑनलाइन एप्लीकेशन / रजिस्ट्रेशन फॉर्म भरने के लिए प्रक्रिया यहाँ बताई गयी है:-
  • सबसे पहले झारखण्ड मुख्यमंत्री श्रमिक योजना की आधिकारिक वेबसाइट http://msy.jharkhand.gov.in/ पर जाएं।
  • इसके बाद "Application" टैब पर जाकर "Apply for Job Card" लिंक पर क्लिक करें जैसे यहाँ पर दिखाया गया है या झारखण्ड मुख्यमंत्री श्रमिक योजना जॉब कार्ड के लिए ऑनलाइन आवेदन / पंजीकरण के लिए सीधे इस लिंक http://msy.jharkhand.gov.in/Job_Card/apply_form पर क्लिक करें:-
  • नए पेज पर झारखण्ड मुख्यमंत्री श्रमिक योजना ऑनलाइन एप्लीकेशन / रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जाएगा:-
  • शहरी रोजगार मंजूरी फॉर कामगार) योजना के तहत जॉब कार्ड बनवाने के लिए इस एप्लीकेशन फॉर्म को भरकर रजिस्ट्रेशन करवाना अनिवार्य है। 
सभी इच्छुक उम्मीदवार इस श्रमिक योजना आवेदन पत्र का प्रिंटआउट जरूर निकलवा ले ताकि भविष्य में इसका उपयोग कर सकें। एप्लीकेशन फॉर्म भरने के बाद आवेदक को लॉगिन करने लिए "User ID" और "Password" मिल जाएगा।   
       

झारखण्ड मुख्यमंत्री श्रमिक योजना जॉब कार्ड डाउनलोड करें ऑनलाइन

झारखण्ड मुख्यमंत्री श्रमिक योजना के तहत जॉब कार्ड डाउनलोड करने के लिए प्रक्रिया यहाँ बताई गयी है:-
  • सबसे पहले झारखण्ड मुख्यमंत्री श्रमिक योजना की आधिकारिक वेबसाइट http://msy.jharkhand.gov.in/ पर जाएं।
  • इसके बाद "Application" टैब पर जाकर "Download Job Card" लिंक पर क्लिक करें जैसे यहाँ पर दिखाया गया है या झारखण्ड मुख्यमंत्री श्रमिक योजना जॉब कार्ड डाउनलोड के लिए सीधे इस लिंक http://msy.jharkhand.gov.in/Job_Card/downloadJobCard पर क्लिक करें:-
  • नए पेज पर झारखण्ड मुख्यमंत्री श्रमिक योजना जॉब कार्ड डाउनलोड करने का पेज खुल जाएगा:-
  • इस झारखंड मुख्यमंत्री श्रमिक योजना जॉब कार्ड डाउनलोड के पेज पर "Application Ref Number / आवेदन सन्दर्भ संख्या" और "Aadhaar No. / आधार नंबर" डालकर "Submit" करें।
ऐसा करने पर झारखण्ड मुख्यमंत्री शहरी रोजगार मंजूरी फॉर कामगार योजना जॉब कार्ड डाउनलोड हो जाएगा।

झारखंड मुख्यमंत्री श्रमिक योजना के अंतर्गत रोजगार की मांग करें        

झारखण्ड मुख्यमंत्री श्रमिक योजना 2020 के अंतर्गत रोजगार की मांग करने के लिए आधिकारिक वेबसाइट msy.jharkhand.gov.in पर जाएं। इसके बाद "Application" टैब पर जाकर "Demand Employment" लिंक पर क्लिक करें या सीधे इस लिंक http://msy.jharkhand.gov.in/Job_Card/demandWork पर क्लिक करें। नए पेज पर झारखण्ड मुख्यमंत्री श्रमिक योजना जॉब कार्ड से रोजगार की मांग करने का पेज खुल जाएगा:-
ऐसा करने पर झारखण्ड मुख्यमंत्री शहरी रोजगार मंजूरी फॉर कामगार योजना जॉब कार्ड से नौकरी की मांग कर सकते हैं।

झारखण्ड शहरी रोजगार मंजूरी फॉर कामगार योजना शिकायत दर्ज करें  

झारखण्ड मुख्यमंत्री श्रमिक योजना 2020 के अंतर्गत शिकायत दर्ज करने के लिए आधिकारिक वेबसाइट msy.jharkhand.gov.in पर जाएं। इसके बाद "Grievance" टैब पर जाकर "Record Grievance" लिंक पर क्लिक करें या सीधे इस लिंक http://msy.jharkhand.gov.in/Job_Card/recordGrievance पर क्लिक करें। नए पेज पर झारखण्ड मुख्यमंत्री श्रमिक योजना जॉब कार्ड से सम्बंधित शिकायत दर्ज करने का पेज खुल जाएगा:-
इस पेज पर आवेदक अपना जॉब कार्ड संख्या, आधार नंबर, शिकायत का प्रकार, शिकायत का विवरण डाल सकते है और समस्या से समाधान पा सकते हैं। 
      

झारखण्ड में MGNREGA की तरह मुख्यमंत्री श्रमिक योजना जॉब कार्ड 

राज्य /केंद्र सरकार की मौजूदा योजनाओ में सभी प्रवासी श्रमिक को कार्यों में प्राथमिकता दी जायेगा। यदि मजदूरों को मौजूदा योजनाओ में समायोजित नहीं किया जा सकता है तो झारखण्ड सरकार इस उद्देश्य के लिए विशेष योजनाए बनाएंगे। सभी शहरी स्थानीय निकायों (ULB)  को प्रवासी श्रमिक के रोजगार के लिए विशेष योजना बनाने के लिए अलग से धन दिया जायेगा। सीएम ने कहा है कि "स्वच्छता कार्यो से लेकर विकास परियोजनाओं तक शहरी क्षेत्रों में नोकरियो के बहुत सारे अवसर है". 

MGNREGS में मजदूरों की तरह,सभी शहरी मजदूरों को भी पंजीकृत किया जायेगा और उन्हें जॉब कार्ड प्रदान किए जाएंगे। MGNREGS में  वेबसाइट के कार्यो के समान एक विशेष वेबसाइट भी तैयार की जा रही है।MGNREGA (Mahatma Gandhi National Rural Employment Guarantee Act) की तरह नई झारखण्ड मुख्यमंत्री श्रमिक योजना 2020 में भी बेरोजगारी भत्ते का प्रावधान होगा। अगर कोई शहरी स्थानीय निवासी 15 दिनों के अंदर नौकरी मिलने में असमर्थ रहता है तो उसे बेरोजगारी भत्ता दिया जाएगा। इसके अलावा, पंजीकृत लाभार्थियों को जॉब कार्ड प्रदान किए जाएंगे।

झारखंड मुख्यमंत्री श्रमिक योजना जॉब कार्ड प्राप्त करने की पात्रता मानदंड

यहां कुछ पात्रता मानदंड है जिन्हे शहरी जॉब कार्ड के लिए आवेदन पूरा करने की आवश्यकता है:-
  • व्यक्ति की उम्र 18 साल और उससे अधिक होनी चाहिए।
  • वह 1 अप्रैल 2015 से शहरी क्षेत्रों में रहना चाहिए। 
  • ग्रामीण क्षेत्रों में आवेदक के पास MGNREGA महात्मा गाँधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारन्टी कार्ड नहीं होना चाहिए। 
  • दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी,सरकारी आश्रय में रहकर,पिछले तीन वर्षो से नई योजना के लिए पात्र होंगे। 
इन सभी पात्रताओं को पूरा करने वाले को ही झारखण्ड मुख्यमंत्री श्रमिक योजना के अंतर्गत नौकरी के लिए जॉब कार्ड मिल सकेगा। 
    

अगर श्रमिक को नौकरी नहीं मिलती है तो बेरोजगारी भत्ता कितना होगा 

प्रत्येक मजदूर को पहले रोजगार के 30 दिनों के लिए मजदूरी का 1 /4 वा हकदार होगा। दूसरे महीने में सभी मजदूरों को मजदूरी का 1 /2 हिस्सा मिलेगा। यदि मजदूर को तीसरे के लिए नौकरी नहीं मिलती है,तो ये शहरी गरीब लोग मजदूरी के हकदार होंगे जो मूल न्यूनतम मजदूरी के बराबर है। बेरोजगारी भत्ता राशि शहरी क्षेत्रों में गरीब लोगो के बैंक खाते में सीधे 15 दिनों के अंदर स्थानांतरित कर दी जाएगी। 

झारखण्ड में नरेगा जैसी 100 दिन नौकरी गारन्टी योजना कार्यांन्वयन 

झारखण्ड श्रमिक योजना जो नौकरी की गारन्टी के लिए एक नरेगा जैसी योजना है,शहरी विकास और आवास विभाग द्वारा राज्य शहरी रोजी -रोटी मिशन के माध्यम से संचालित की जाएगी। नगर आयुक्त ,कार्यकारी कार्यालय या नगर निकार्यो के विशेष अधिकारी योजना के केंद्रक अधिकारी होंगे। कई अर्थशास्त्रियो ने झारखण्ड मुख्यमंत्री शहरी योजना की सराहना की है और राज्य में प्रवासी श्रमिको की कमाई के बाद इसे आवश्यक बताया है। 

आज तक एक धारणा थी कि गरीब का मतलब ग्रामीण लोग है, इसके अनुसार ग्रामीण क्षेत्रों के लिए बहुत सारी गरीबी कम करने की योजनाएं शुरू की गई है। लेकिन शहरी गरीबो का एक हिस्सा भी है और उन्हें ग्रामीण क्षेत्रों की तरह नौकरी की गारन्टी भी चाहिए,जिनके लिए शहरी गरीबो के लिए यह सीएम रोजगार गारन्टी योजना का उद्देश्य पूरा होगा। 

झारखण्ड मुख्यमंत्री शहरी गरीब जॉब गारन्टी योजना में शहरी रोजगार सेवक की भूमिका 

राज्य सरकार एक नया पद निर्माण करेगी, जो खंड या नगरपालिका स्तर पर अनुबंध के आधार पर नियोजित किया जाएगा। व्यक्ति योजना के तहत मजदूरों के नए पंजीकरण की देखभाल करेगा। योजना के तहत प्रत्येक मजदूर को एक शहरी जॉब कार्ड जारी किया जाएगा। 

शहरी गरीबो को रोजगार के अवसर 

शहरी गरीबो के लिए नई झारखण्ड सीएम जॉब गारन्टी योजना कोरोना महामारी के प्रकोप के बाद शहरी झारखण्ड लौटने वाले प्रवासी श्रमिकोकी मदद करेगी। कोरोनावायरस महामारी फैलने के दौरान 1 मई से राज्य के बाहर फंसे 5 लाख से अधिक प्रवासी श्रमिक झारखण्ड लौट आए। 

झारखण्ड राज्य ग्रामीण विकास विभाग ने 2.5 लाख श्रमिको का कौशल मानचित्रण किया है। यह पता चला है कि विभिन्न राज्यों से लौटे 30 %श्रमिक अकुशल श्रमिक है।  
  

कोरोना वायरस के कारण हुए नुक्सान की भरपाई  

कोरोनावायरस एक बहुत बड़ी भयंकर महामारी के लॉकडाउन के बीच, बहुत संख्या में प्रवासी मजदूरअपनी नौकरी को खो चुके थे और अपने घरो को लौट आये थे, उनके पास रोजी-रोटी कमाने का कोई साधन भी नहीं था। अब यह संबंधित राज्य सरकार की जिम्मेदारी है कि वह सुनिश्चित करे कि इन प्रवासी श्रमिको को अपने ही राज्यों में कामकाज मिले ताकि उन्हें कही बाहर जाकर काम करने की कोई आवश्यकता ना  हो। राज्य सरकार झारखण्ड में मुख्यमंत्री श्रमिक योजना 2020 शुरू होगी और नरेगा की तरह ही मजदूरों को जॉब कार्ड प्रदान करेगी। 

इसके कारण हर जरुरतमंद गरीब परिवारों को अपने घर के पास ही रोजगार के अवसर मिलेंगे और कोरोना वायरस के कारण हुए नुक्सान की भरपाई भी हो पाएगी। इस शुरुआत के साथ, झारखण्ड शहरी गरीबो के लिए रोजगार गारन्टी योजना शुरू करने वाला केरल के बाद देश का दूसरा राज्य बन जाएगा। केरल सरकार पहले से ही अय्यनकाली शहरी रोजगार गारन्टी योजना चला रही है। यहां हम आपको झारखण्ड मुख्यमंत्री नौकरी योजना की पूरी जानकारी प्रदान करने की कोशिश की  है।  

Jharkhand Mukhyamantri Sharamik Yojana in English

The main objective of Mukhyamantri SHRAMIK is to enhance livelihood security in Jharkhand State by providing a guaranteed 100 days wage employment in a financial year.
Due to Covid 19, a large number of workers of Jharkhand have returned to the state from other states of the country. In this situation, they are facing self and family earning,maintenance and other financial difficulties

Another mission is to create durable assets (such as roads, canals, ponds, wells, buildings, parks and planting). Employment is to be provided to them and minimum wages are to be paid. If work is not provided as per prescribed categories of this scheme, applicants are entitled to an unemployment allowance. Thus, employment under Mukhyamantri SHRAMIK is a legal entitlement.

Strengthening decentralised, participatory planning through convergence of various anti-poverty and livelihoods initiatives. Social protection for the most vulnerable people living in rural India by providing employment opportunities.

Jharkhand Shahri Rozgar Manjuri for Kamgar Yojana Helpline (Contact) Number   

-- Location -- Directorate, Municipal Administration, Urban Development & Housing Department, 3rd Floor, FFP Building, Dhurwa, Govt. of Jharkhand, Ranchi-834004, Jharkhand.
-- Phone -- 0651-2401955
-- Email -- director.ma.goj@gmail.com

No comments:

Post a comment