YOGIYOJANA.CO.IN : सरकारी योजनाओं की जानकारी हिंदी और अंग्रेजी में, सरकारी योजना : Sarkari Yojana in Hindi / English | प्रधानमंत्री व राज्य सरकार की योजनाएं 2020​

Friday, 10 July 2020

मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री सोलर पंप योजना ऑनलाइन पंजीकरण / आवेदन फॉर्म | MP Solar Pump Yojana 2020 Online Registration / Application Form at cmsolarpump.mp.gov.in

**मेरे प्यारे साथियों** आज हम आपको मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री सोलर पंप योजना के बारे में बताएंगे। माननीय मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जी ने सोलर पंप योजना का शुभारंभ राज्य सरकार द्वारा किसानों को लाभ पहुंचाने के लिए किया है। इस योजना में केंद्र सरकार और मध्य प्रदेश सरकार द्वारा 90% अनुदान दिया जा रहा है। आइए इस योजना की पात्रता,दस्तावेज,आवेदन और लाभ संबंधी जानकारी हम आपको देते है। मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री सौर पंप योजना के लिए ऑनलाइन पंजीकरण / आवेदन फॉर्म आधिकारिक वेबसाइट cmsolarpump.mp.gov.in पर आमंत्रित किये जा रहे है। मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री सोलर पंप योजना 2020, MP के उन किसानो के लिए एक बहुत अच्छी खबर है जिन्हे सिंचाई करने में परेशानी होती थी। जिस किसानों के खेतों में ज्यादातर बिजली नहीं आती है, उन लोगो को भी इस योजना से काफी लाभ होगा। 


मध्य प्रदेश के जो भी इच्छुक लाभार्थी है तो इस योजना के तहत अपना रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। इस मुख्यमंत्री सोलर पंप योजना मध्य प्रदेश 2020 के तहत असिंचित क्षेत्रों में व डीजल पम्पों के जगह पर सोलर पम्पों के उपयोग से प्रदेश में सिंचित जमीं का क्षेत्रफल बढ़ेगा, कृषि उत्पादन में भी वृद्धि होगी और किसान व्यावसायिक व अन्य लाभ की फसलें उगा सकेंगे।


मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री सोलर पंप योजना 2020 के लिए ऑनलाइन आवेदन

मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री सोलर पंप योजना ऑनलाइन पंजीकरण /आवेदन पत्र 2020 भरने की पूरी प्रक्रिया नीचे दी गई है:- 

  • सबसे पहले सभी इच्छुक उम्मीदवारों को आधिकारिक वेबसाइट https://cmsolarpump.mp.gov.in/ पर जाना होगा। 

  • मुख्यपेज पर "नवीन आवेदन करे" लिंक पर क्लिक करे या ऑनलाइन आवेदन करने के लिए सीधे https://cmsolarpump.mp.gov.in/SolarApplication/Login_Mobile इस लिंक पर क्लिक करे। 

  • नई विंडो में मोबाइल नंबर से लॉगिन करे,आवेदक ओटीपी को सत्यापित करने के बाद अपने मोबाइल नंबर से लॉगिन कर सकते है।
  • आपके पंजीकृत मोबाइल नंबर पर भेजे गए ओटीपी को मान्य करने के बाद मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री सोलर पंप योजना ऑनलाइन पंजीकरण फॉर्म खुल जाएगा जैसा यहाँ दिखाया गया है। 
  • इस रजिस्ट्रेशन फॉर्म को भरने के बाद आगे बढ़ने के लिए "सुरक्षित करे" पर क्लिक करना होगा। एक बार जब आप अपनी जानकारी सहेज लेते है, तो एमपी सीएम सोलर पंप योजना ऑनलाइन एप्लीकेशन फॉर्म पेज यहां दिखाई देगा।
  • इस अनुभाग में पिछले अनुभाग में पिछले अनुभाग के साथ-साथ अन्य घटको में भरी जाने वाली जानकारी शामिल है जिसे भरने की आवश्यकता है (हमने सुरक्षा कारणों से कुछ जानकारी छिपा ली है)
  • आवेदन पत्र भरने के लिए आधार ई -केवाईसी, पिछले चरण में "अगला विकल्प पर क्लिक करने के बाद उम्मीदवार MP Mukhyamantri Solar Pump Yojana आवेदन पत्र भरने के लिए आगे बढ़ने के लिए आधार e-KYC कर सकते है। आधार ई -केवाईसी विंडो नीचे दिखाए अनुसार दिखाई देगी। 
  • यहां आधार नंबर दर्ज करे और अपने पंजीकृत मोबाइल नंबर को सत्यापित करने के लिए "ओटीपी भेजे" बटन पर क्लिक करे। ओटीपी को मान्य करने के बाद,स्कीन पर सफल ई -केवाईसी का एक संदेश दिखाई देगा। 
इसके अनुसार आवेदकों को आवेदन प्रक्रिया को पूरा करने के लिए बैंक खाते, सामग्र आईडी, जाति घोषणा, खसरा मानचित्र, सौर पंप विवरणों को सत्यापित करना होगा और पूरा एमपी सोलर पंप योजना आवेदन पत्र जमा करना होगा। 

ऑनलाइन प्रक्रिया कैसे लागू करे, इस बारे में अधिक जानकारी के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करे:-

योजना के लिए किसान के चयन के बाद, शेष राशि डीडी या ऑनलाइन मोड़ के माध्यम से "मध्य प्रदेश बिजली विकास निगम मुख्यमंत्री सौर पंप योजना" के पक्ष में 20 दिनों के भीतर जमा करनी होगी। राशि प्राप्त करने के बाद सौर पंप की स्थापना 120 दिनों के भीतर पूरी हो जाएगी। 

सौर ऊर्जा पंप लगवाने में किन लोगों को प्राथमिकता दी जाएगी  

इस योजना के तहत मध्य प्रदेश में आवेदक की मांग देखते हुए इन व्यक्तियों को प्राथमिक्ता दी जा रही है:-

  • जो ऐसे इलाकों से हैं जहां पर बिजली की समस्या है।  
  • जिन इलाकों में कृषि करने के लिए कोई पंप कनेक्शन नहीं है। 
  • जिनके खेत की दूरी बिजली लाइन से 300 मीटर से अधिक है।  
  • साथ ही उन इलाको में जहां नदी या बांध हो। 
  • इसके अलावा जिन क्षेत्रों में बिजली कंपनियो की वाणिजियक हानि अधिक है और ट्रांसफार्मर हटा लिए गए है। 
  • यदि किसी क्षेत्र में फसलों के चयन के कारण पम्पों की आवश्यकता हो तो उन्हें भी इस योजना का लाभ मिलेगा। 
सोलर पंप योजना के तहत ड्रीजल पंप हटा कर भी यह सोलर पंप लगाए जाएंगे जिससे न केवल किसानो का पैसा बचेगा बल्कि प्रदूषण भी कम होगा। 

प्रदेश के किसानों के लिए अगले 5 वर्षों में 2 लाख सोलर पम्प स्थापना का लक्ष्य

सोलर पम्प स्थापना हेतु ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किये जाते हैं, जिसमें भारत शासन व मध्यप्रदेश शासन द्वारा अनुदान दिया जा रहा है। इस योजनांतर्गत कृषक को सोलर पम्प का लाभ इस शर्त पर दिया जाएगा कि कृषक की कृषि भूमि के उस खसरे/बटांकित खसरे पर भविष्य में विद्युत पम्प लगाये जाने पर उसको विद्युत प्रदाय पर कोई अनुदान देय नहीं होगा।


कृषक द्वारा स्वप्रमाणीकरण भी दिया जाएगा कि वर्तमान में कृषक के उस खसरे/बटांकित खसरे की भूमि पर विद्युत पम्प संचालित/ संयोजित नहीं है। यदि सम्बन्धित कृषक उक्त विद्युत पम्प का कनेक्शन विच्छेद करवा लेता है अथवा उस पर प्राप्त अनुदान छोड़ देता है, तब उसे सोलर पम्प स्थापना पर अनुदान दिया जा सकता है।

 

मध्य प्रदेश सोलर पंप योजना 2020 के लिए जरुरी दस्तावेज

सभी आवेदकों को ऑनलाइन अप्लाई करने से पहले इन दस्तावेजों को सहेज लेना चाहिए ताकि मुख्यमंत्री सोलर पंप योजना में ऑनलाइन एप्लीकेशन फॉर्म भरने में दिक्कत ना हो:-   

  • आधार कार्ड 
  • आवेदन के पास किसान कार्ड होना चाहिए 
  • आवेदक मध्य प्रदेश का स्थायी निवासी होना चाहिए 
  • निवास प्रमाण पत्र
  •  खेती योग्य जमीन के कागजात 
  • मोबाइल नंबर 
  • पासपोर्ट साइज फोटो 
सौर ऊर्जा पंप पंजीकरण / रजिस्ट्रेशन करते समय इन दस्तावेजों के सत्यापित होने पर ही ऑनलाइन आवेदन पूर्ण माना जाएगा।   

मुख्यमंत्री सोलर पंप योजना के लाभ

मुख्यमंत्री सोलर पंप योजना 2020 का लाभ राज्य के सभी किसान उठा सकते है,और सोलर पंप की मदद से आसानी से अपने खेतों में सिंचाई कर सकते है। ऐसे ग्रामीण क्षेत्र जहां बिजली है लेकिन बिजली लाइन से कम से कम 300 मीटर की दूरी पर हो, उन्हें इस योजना का लाभ में प्राथमिकता प्रदान की जाएगी। इस योजना के अंतर्गत राज्य के किसानों को मुफ्त सोलर पंप प्रदान किए जाएंगे। नदी या बांध के पास की जगह जहां फसलों के प्रकार के आधार पर सिचाई के लिए पानी के पंप की अधिक आवश्यकता होने के कारण बिजली की अधिक खर्च होती हो।


राज्य के जिन क्षेत्रो में बिजली वितरण कंपनियों द्वारा बिजली के आधारिक सरंचना की व्यवस्था नहीं की जा सकती, जिसके कारण किसानों को सिंचाई बिजली के अस्थायी कनेक्शन की व्यवस्था करनी पड़ती है। इसी लिए किसानो को इस मुख्यमंत्री सोलर पंप योजना मध्य प्रदेश 2020 के तहत प्राथमिकता दी जाएगी। 

एमपी में सोलर पम्पिंग सिस्टम के प्रकार

मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री सोलर पंप योजना के अंतर्गत आवेदन करने वाले आवेदक नीचे दिए गए सोलर पम्पिंग सिस्टम के प्रकार में से कोई एक चुन सकते हैं:-

याद रखे की एक व्यक्ति एक खेत में केवल एक प्रकार का ही सोलर पम्पिंग सिस्टम मुख्यमंत्री सोलर पंप योजना के तहत लगवा सकता है। 
     

मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री सोलर पंप योजना का उद्देश्य 

मध्य प्रदेश सोलर पंप योजना 2020 के जरिए किसानों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए सब्सिडी दर पर सोलर पंप उपलब्ध करवाना और राज्य में अच्छी फसलों को बढ़ावा देना है। आज भी देश के अधिकतर किसानों के पास बिजली न होने की दशा में डीजल पंप द्वारा ही सिंचाई का काम किया जाता है, जिससे प्रदूषण तो बढ़ता ही है साथ ही किसानो को भी बहुत मोटा खर्चा करना पड़ता है। 


जबकि इस मध्य प्रदेश सोलर पंप योजना 2020 माध्यम से 18 हजार किसानो को सोलर पंप मुहैया कराए जायेंगे। योजना का लाभ अधिक मात्रा में लाभ प्राप्त हो उसके लिए सरकार द्वारा 90 %तक की आर्थिक मदद दी जाएगी और 10% धनरशि किसानों को खुद ही जुटानी होगी। योजना से किसानों की सिंचाई की समस्या तो खत्म होगी साथ ही उनकी आय में बहुत वृद्धि होगी। 


स्कीम की ज्यादा जानकारी - https://cmsolarpump.mp.gov.in/SchemeInfo

नियम और गाइडलाइन्स - https://cmsolarpump.mp.gov.in/Rules

No comments:

Post a comment