Yogi Yojana List 2024 (नई सरकारी योजनाओं की सूची)

Yogi Yojana List 2024 (नई सरकारी योजनाओं की सूची)

प्रधानमंत्री मोदी एवं विभिन्न राज्य के मुख्यमंत्री द्वारा शुरू की गयी सभी योजनाएं, केंद्र व राज्य सरकार की योजनाएँ 2024, सरकारी योजना हिंदी और अंग्रेजी में योगी योजना वेबसाइट पर

उत्तराखंड किसान पेंशन योजना 2024 आवेदन फॉर्म पीडीएफ डाउनलोड, एप्लीकेशन स्टेटस | Uttarakhand Kisan Pension Yojana Application Form PDF Download & Status

**मेरे प्यारे साथियो** आज हम आपको उत्तराखंड सरकार की किसान पेंशन योजना (KPY) 2024 के बारे में बताएंगे। किसान पेंशन योजना के तहत 60 साल की उम्र पार कर चुके उत्तराखंड के किसानो जिनके पास 2 हेक्टेयर से कम भूमि है, को हर महीने 1000 रुपये का लाभ मिलता है। यह योजना COVID -19 के बीच किसानो को वित्तीय सहायता प्रदान करने और उनके पलायन को रोकने के लिए शुरू की गयी थी जो अभी भी चल रही है। अगर आपके परिवार में या आपके नजदीक या जानकारी में कोई किसान हो तो, उसे KPY पेंशन दिलाने की प्रक्रिया हम आपको बता रहे हैं।

इस योजना में राज्य सरकार की वित् वर्ष 2024 की पहली तिमाही क़िस्त के रूप में उत्तराखंड सरकार किसान पेंशन योजना के तहत 7.65 करोड़ रूपये की धनराशि जारी की गयी है। यह राशि 25,397 लाभार्थी किसानो के खाते में पहुंची है। आइए जानते है कि उत्तराखंड किसान पेंशन योजना में क्या-क्या लाभ है, पात्रता और कैसे आवेदन (एप्लीकेशन) फॉर्म ऑनलाइन डाउनलोड करना है इसकी पूरी जानकारी हम आपको देते है।

उत्तराखंड किसान योजना किसानो को उनके घर पर सुरक्षित रहने और भयंकर महामारी कोरोनावायरस के प्रसार और प्रसार को रोकने में योग्य बनाएगी। उत्तराखंड किसान पेंशन योजना का कई किसानो को लाभ मिलेगा। सरकार द्वारा पेंशन केवल उन्ही किसानो को प्रदान करवाई जाएगी जो किसान अपने खुद के खेतो में खेती कर रहे है। जो किसान किसी ओर वजह से पेंशन प्राप्त कर रहे है उन्हें इस किसान पेंशन योजना का लाभ नहीं मिल सकता। यदि किसान को पेंशन मिलने के बाद किसान खेती नहीं करते तो सरकार द्वारा उनकी पेंशन बंद कर दी जाएगी।

Kisan Pension Yojana in Uttarakhand Budget 2024-25

27 फ़रवरी 2024 को वित्त मंत्री ने उत्तराखंड बजट 2024-25 पेश किया। अपने बजट भाषण में वित्त मंत्री ने बताया की "किसान पेंशन योजनान्तर्गत वित्तीय वर्ष 2024-25 में लगभग रू० छियालिस करोड़ दस लाख (रू0 46.10 करोड़) का प्रावधान किया जा रहा है।"

उत्तराखंड किसान पेंशन योजना एप्लीकेशन फॉर्म पीडीएफ

लोग अब नीचे दिए गए लिंक के माध्यम से उत्तराखंड किसान पेंशन योजना आवेदन पत्र डाउनलोड कर सकते है।:-

  • यहां आवेदक आवेदन पत्र डाउनलोड कर सकते है और सभी व्यक्तिगत विवरण, जन्मतिथि, भूमि विवरण, मतदाता पहचान पत्र, मोबाइल नंबर और अन्य विवरण दर्ज कर सकते है। 
उत्तराखंड सरकार द्वारा किसान पेंशन जैसी योजना से किसानो को योग्य बनाने के लिए अलग-अलग प्रयास किए जा रहे है। रिपोर्ट के अनुसार राज्य सरकार उत्तराखंड में 60 साल से अधिक आयु वाले सभी किसानो को प्रति माह 1000 रुपये (यानी 12,000 प्रतिवर्ष) पेंशन देगी।

किसान पेंशन योजना पंजीकरण पूरा करने के लिए दस्तावेज  

किसान पेंशन योजना पंजीकरण पूरा करने के लिए किसानो को पूर्ण आवेदन पत्र के साथ निम्नलिखित दस्तावेज जमा करने होंगे:-
  • बैंक या डाकघर की कॉपी
  • आधार संख्या
  • मतदाता पहचान पत्र
  • भूमि के स्वामित्व के दस्तावेज
किसान पेंशन योजना का लाभ पाने के लिए किसानो को अपनी जमीन के संबंध में 10 रुपए का शपथ पत्र भी प्रस्तुत करना होगा।

उत्तराखंड किसान पेंशन योजना पात्रता मानदंड  

उत्तराखंड राज्य सरकार ने किसान पेंशन योजना के लाभ के लिए कुछ शर्ते भी रखी गई है:-
  • लाभ प्राप्त करने के लिए किसान को उत्तराखंड राज्य का निवासी होना चाहिए।
  • यह योजना पुरुषो या महिलाओ के आधार पर भेदभाव नहीं करती है।
  • लाभार्थी किसान की उम्र 60 साल या उससे अधिक होनी चाहिए।  
  • किसान अपनी 2 हेक्टेयर तक की भूमि पर खेती कर रहा हो।
  • जिस दिन से ऐसे किसानो द्वारा खुद की भूमि पर खेती करने का काम बंद किया जाएगा, उसी दिन से इस पेंशन योजना के अंतर्गत दी जा रही पेंशन की सुविधा खुद समाप्त हो जाएगी।
किसान पेंशन योजना के अंतर्गत दी जाने वाले राशि अन्य पेंशन योजना (वृद्वावस्था, विधवा या विकलांग) पेंशन के सामान होगी।
 

उत्तराखण्ड किसान पेंशन योजना आवेदन की स्तिथि (एप्लीकेशन स्टेटस)

उत्तराखंड किसान पेंशन योजना के अंतर्गत आवेदन की स्तिथि जानने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें:-
किसान पेंशन योजना एप्लीकेशन स्टेटस देखने का पेज कुछ इस प्रकार दिखाई देगा:-
इस पेज पर किसान पेंशन के सामने दिए गए "विस्तार से जानने के लिए क्लिक करें" लिंक पर जाकर आवेदन की स्तिथि जान सकते हैं।
  

उत्तराखंड किसान पेंशन योजना के लाभ

पूरे लॉकडाउन में किसानो को अपनी रोजी-रोटी के साथ-साथ खेती में और रोजाना जीवन में बहुत सी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था। उत्तराखंड सरकार बहुत सी योजनाओं माध्यम से इस मुश्किल को कम करने के लिए संकट के समय किसानो, दैनिक वेतन भोगियो और मजदूरों के लिए बहुत राहत के उपाय जारी किए है। उत्तराखंड किसान पेंशन योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों की मदद करना है। 

हमारे किसान बहुत मेंहनत करके अपने खेतो में फसल उगाते है, अपनी फसल का पूरा ध्यान रखते है। किसानो की फसल अधिक बारिश की वजह से ख़राब हो जाती है उनके पास अपने परिवार का पालनपोषण करना बहुत ही मुश्किल हो जाता है। इसी वजह से उत्तराखंड सरकार ने किसानो के लिए किसान पेंशन योजना का शुभारंभ किया है।
ताकि उनको कोई दिक्कत न हो और अपने परिवार को ख़ुशहाल बना सके। राज्य सरकार उत्तराखंड ने किसानों को चल रहे कोरोना संकट को हारने के लिए किसान पेंशन योजना का लाभ उठाने की सलाह दी है। इसके अलावा राज्य सरकार किसानो को हर तरह से योग्य बनाने के लिए अलग-अलग प्रयास कर रही है।

Kisan Pension Yojana in Uttarakhand Budget 2023-24

वित्त मंत्री ने 15 मार्च 2023 को उत्तराखंड बजट 2023-24 पेश किया जिसमे उन्होंने कहा की "वित्तीय वर्ष 2023-24 में वर्तमान में पेंशन पा रहे एवं नवीन पात्र सभी वृद्धजनों, निराश्रित विधवाओं, दिव्यांगों, आर्थिक रूप से कमजोर किसानों, परित्यक्त महिलाओं आदि को पेंशन दिये जाने हेतु समग्र रूप से कुल रु. एक हजार छः सौ छियासी करोड़ सात लाख (रू. 1686.07 करोड़ का बजट प्रावधान किया गया है। इससे लगभग 5 लाख 70 हजार वृद्धजनों, 2 लाख 15 हजार निराश्रित विधवाओं, 97 हजार दिव्यांगों. 29 हजार किसानों एवं 6 हजार 500 परित्यक्त निराश्रित महिलाओं को पेंशन देकर लाभान्वित किये जाने का लक्ष्य है".

ज्यादा जानकारीhttps://socialwelfare.uk.gov.in/pages/display/115-kisan-pension 

Post a Comment

0 Comments